बड़ा खुलासा: इस खतरनाक सांप से फैल रहा ये जानलेवा वायरस

बड़ा खुलासा: इस खतरनाक सांप से फैल रहा ये जानलेवा वायरस

नई दिल्ली। इन दिनों एक खतरनाक वायरस ने दुनियाभर में कोहराम मचाया हुआ है। इस जानलेवा वायरस को लेकर एक सनसनीखेज खुलासा हुआ है। हाल ही में चीन के वुहान में कई लोग एक ऐसे वायरस का शिकार हुए हैं, जो तेजी से लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। इस वायरस का नाम है कोरोना वायरस (Corona virus) है, जिससे अब तक 17 लोगों की मौत हो चुकी है।

तो वहीं अब तक इस बीमारी की चपेट में 555 लोग आ चुके हैं। इस वायरस का शिकार होने वाले लोगों को बुखार, सांस लेने में दिक्कत और निमोनिया (Pneumonia) जैसी बीमारियों का एहसास हो रहा है। जबकि इसके बारे में जब पता लगाया गया कि आखिर ये वायरस आ कहां से रहा है..? तो खुलासे में ये पता चला कि ये वायरस सांप के जरिए लोगों में फैल रहा है।

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस की चपेट में आयीं भारतीय नर्स, चीन में अब तक 600 मामले आए सामने

बताया जा रहा है कि इस बीमारी की चपेट में आए 555 लोगों में वुहान के ही सिर्फ 444 लोग शामिल हैं। जब 26 लोग गुआंगडोंग प्रांत में, 14 लोग बीजिंग में और 9 लोग शंघाई के हैं। इसके अलावा इस वायरस का असर अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर थाईलैंड, जापान, दक्षिण कोरिया और अमेरिका में फैल चुका है।

images

दरअसल चीन के एक वैज्ञानिक द्वारा ये दावा किया जा रहा है कि कोरोना वायरस (Corona virus) सांप की वजह से लोगों में फैल रहा है। दरअसल यहां पर सांप के काटने से ये बीमारी नहीं फैल रही, बल्कि ये ऐसा इसलिए हो रहा है, क्योंकि चीन में सांप परंपरा के तौर पर खाया जाता है।

यह भी पढ़ें: चीन में कोरोना वायरस से 6 की मौत, वहां से भारत आने वाले यात्रियों की होगी जांच

जानकारी के मुताबिक चीन के वुहान में एक ऐसा बाजार है, जहां पर इस तरह के जीव-जंतु जैसे सांप, चमगादड़, मैरमोट्स, पक्षी, खरगोश को बेंचा जाता है। जिसे यहां के लोग खाते हैं। इसलिए वैज्ञानिकों का ये मानना है कि चमगादड़ से फैलने वाला SARS (Severe Acute Respiratory Syndrome) का वायरस सांप के जरिए लोगों में फैल रहा है।

images

बताया जा रहा है कि SARS वायरस जब सांप में पहुंचा उसके बाद उसने कोरोना वायरस की बीमारी का रूप ले लिया। हालांकि कहा ये भी जा रहा है कि SARS का इलाज संभव है, लेकिन सांप के शरीर में बने नए कोरोना वायरस का अभी तक कोई इलाज नहीं मिल पाया है।

पेकिंग यूनिवर्सिटी (Peking University) में कोरोना वायरस पर काफी गहराई से अध्ययन करने के बाद वैज्ञानिक वी जी ने ये दावा किया कि चमगादड़ से सांप में आने के बाद वायरस ने जीनोम का रूप ले लिया। जिससे ये काफी खतरनाक रूप ले लिया है।

images (3)

इसके अलावा वी जी के खुलासे का समर्थन पेंसिलवेनिया स्थित पिट्सबर्ग यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर हाईताओ गुओ ने भी किया है। उनका कहना है कि ये बात काफी चौंकाने वाली है। चमगादड़ और सांप के वायरस ने मिलकर कोरोना वायरस बनाया है।

यहां तक कि इसी यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर पीटर राबिनोविट्ज का कहना है कि दिलचस्प बात तो ये है कि दो जीवों के वायरस आपस में मिल गए है। जो अब हवा और खाने के जरिए इंसानों में फैल चुके हैं। वायरस का इस तरह से बदलना भविष्य के लिए खतरनाक साबित हो सकता है।

Share