चलती बस में चालक ने बनाया टिकटॉक वीडियो, हुआ ये अंजाम

चलती बस में चालक ने बनाया टिकटॉक वीडियो, हुआ ये अंजाम

जालंधर। टिकटॉक विडियोज बनाने की दिलचस्पी कई बार लोगों को मुश्किलों में भी डाल देती है। एक सप्ताह पहले पंजाब रोडवेज के एक ड्राइवर ने जालंधर से दिल्ली के रास्ते में ड्राइविंग करते वक्त टिकटॉक विडियो बनाया और उसे सोशल मीडिया पर भी पोस्ट कर दिया।

मामला अधिकारियों के संज्ञान में आया, जिसके बाद उसे नौकरी से निकाल दिया गया है। इस बीच, पंजाब रोडवेज जालंधर डिपॉट के जनरल मैनेजर ने तय किया है कि विभाग के सभी कर्मचारियों को डोप टेस्ट के लिए भेजा जाएगा।

संविदाकर्मी ड्राइवर अमनजोत सिंह ने अपने अकाउंट पर बस चलाते हुए एक टिकटॉक विडियो पोस्ट किया था। वह जालंधर से दिल्ली के रास्ते पर था, तभी उसने ड्राइवरों से संबंधित एक पंजाबी गाने के साथ अपना विडियो बनाया।

स्टेट रोडवेड जालंधर डिपॉट (1) के जनरल मैनेजर परनीत सिंह मिन्हास ने कहा, ‘रविवार को किसी ने यह विडियो मुझे भेजा, मैंने तुरंत ड्राइवर को हटाने के साथ ही ब्लैकलिस्ट करने के निर्देश दिए।’

उन्होंने यह भी कहा, ‘यह ऐसा काम है, जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। इससे सड़क पर चलने वालों के साथ-साथ बस में यात्रा कर रहे लोगों की जिंदगी खतरे में पड़ सकती है। उसकी ब्लैकलिस्टिंग का मतलब है कि उसे फिर कभी रोडवेज में नौकरी नहीं मिल सकती है।’

हरियाणा रोडवेज हिसार डिपॉट के जनरल मैनेजर ने सभी ड्राइवरों को इस बात के निर्देश जारी किए थे कि कोई भी चालक यात्रा की शुरुआत से गंतव्य पर पहुंचने तक मोबाइल फोन का इस्तेमाल नहीं करेगा।

इन निर्देशों के बाद टिकटॉक विडियो बनाने वाले ड्राइवर के निलंबन के आदेश आए हैं। मिन्हास ने बताया कि उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को सभी कर्मचारियों का डोप टेस्ट करने के बारे में भी पत्र लिखा है।

Share