देहरादून में डेंगू के मरीजों की संख्या पहुंची 245 के पार

देहरादून में डेंगू के मरीजों की संख्या पहुंची 245 के पार

देहरादून। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में डेंगू बुखार का प्र्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। 27 नए मरीज सामने आने से स्थिति और चिंताजनक हो गई। स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम लगातार जागरूकता व फॉगिंग के दावे कर रहे हैं, लेकिन ये प्रयास डेंगू के आगे नाकाफी साबित हो रहे हैं।

जिले में इस सीजन में रायपुर क्षेत्र की कुछ कॉलोनियों से डेंगू के मरीज सामने आए थे। समय रहते स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम ने सतर्कता नहीं दिखाई, जिसके चलते इन कॉलोनियों से शुरू हुआ डेंगु का प्रकोप दूसरी जगह भी फैलने लगा। रायपुर के बाद उससे सटे आसपास के क्षेत्रों में भी डेंगू तेजी से फैल रहा है। बृहस्पतिवार को भी जिले में जिन 27 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है, उनमें से भी सभी रायपुर और उसके आसपास के क्षेत्रों के रहने वाले लोग हैं।

वहीं, नगर निगम और स्वास्थ्य विभाग डेंगू प्रभावित क्षेत्रों में लगातार जागरूकता अभियान चलाने का दावा कर रहा है। जिला वेक्टर रोग जनित नियंत्रण अधिकारी सुभाष जोशी ने बताया कि संबंधित विभागों से तालमेल कर डेंगू पर प्रभावी नियंत्रण का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने लोगों से भी जागरूक होने की अपील की है।

अस्पतालों पर दिख रहा असर
डेंगू बुखार फैलने का असर शहर के अस्पतालों पर भी दिख रहा है। डेंगू के प्राथमिक लक्षण नजर आने पर कई मरीजों को डॉक्टर पहले रैपिड और पॉजीटिव आने पर फिर एलाइजा जांच की सलाह दे रहे हैं। वहीं, दहशत में कई सामान्य बुखार के मरीज भी डॉक्टरों से डेंगू की जांच कराने का अनुरोध कर रहे हैं। शहर के सबसे बड़े दून अस्पताल पर भी इसका असर देखने का मिल रहा है। डेंगू बुखार के मद्देनजर दून अस्पताल में 24 बेड और गांधी शताब्दी में भी 24 बेड के दो-दो आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं।

डेंगू के लक्षण
– तेज बुखार
– सिर या पेट में असहनीय दर्द
– शरीर पर चकते पड़ना
– हाथ-पैर ठंडे पड़ने,
– बार-बार उल्टी होना
– बेहोशी छाना
– हालत गंभीर होने पर मुंह-नाक से खून निकलना

बचाव
– घर, स्कूल और कार्यालयों के कूलर, फ्रिज व गमलों आदि में ज्यादा दिन तक पानी जमा न रहने दें
– फुल बाजू की कमीज, फुल पैंट, सलवार, ट्राउजर आदि पहनें
– शरीर पर मच्छररोधी क्रीम लगाकर रखें
– सोते समय मच्छरदानी का इस्तेमाल करें
– भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें
– डेंगू के प्राथमिक लक्षण दिखने पर खुद ही दवा लेने के बजाय तत्काल किसी अच्छे चिकित्सक को दिखाएं
– डॉक्टर की सलाह के अनुसार, जांच कराएं और दवा लें
– डेंगू के दौरान शरीर में पानी की कमी नुकसानदायक हो सकती है। इसलिए मरीज को समय-समय पर पानी पिलाते रहें।
– मरीज को छाछ, नींबू पानी और नारियल पानी इस दौरान अच्छा फायदा देते हैं। एंटी ऑक्सीडेंट के तत्वों से भरपूर कीवी, किशमिश जैसे फल व मेवे खाएं।

Share