आईटीबीपी के जवान ने अपने साथियों पर की अंधाधुंध फायरिंग, छह जवानों की मौत

आईटीबीपी के जवान ने अपने साथियों पर की अंधाधुंध फायरिंग, छह जवानों की मौत

नारायणपुर। छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में आईटीबीपी के एक जवान ने अपने साथियों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। गोली लगने से छह जवानों की मौके पर ही मौत हो गई है। जबकि दो अन्य जवान घायल बताए जा रहे हैं। मंगलवार को कडेनार स्थित आईटीबीपी के कैंप में ये घटना हुई है। बताया जा रहा है कि गोली चलाने वाले जवान की भी इस घटना में मौत हो गई है। फिलहाल घायल जवानों को राजधानी रायपुर लाया जा रहा है। रेंज के आईजी पी.सुंदरराज ने जवानों के बीच झड़प की घटना की पुष्टि की है।

राज्य के गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि इस मामले की विस्तृत जानकारी मंगाई जा रही है। जवानों की छुट्टी तय रहती है, उन्हें छुट्टी के लिए रोका नहीं जाता है। इसलिए छुट्टी की वजह से घटना नहीं हुई होगी। उन्होंने कहा कि फ्रस्टेशन की कोई बात नहीं है। जवानों के बीच किसी बात को लेकर आपसी विवाद हुआ होगा। थोड़ी देर में घटना से जुड़ी और जानकारी आ जाएगी।

बताया जा रहा है कि बुधवार सुबह कडेनार कैंप में गोली चलने की आवाज आई। गोली की आवाज सुनते ही जवान कैंप की ओर भागे। मौके पर जवानों ने देखा की 4 जवानों के शव पड़े हुए थे। साथियों पर गोली चलाने वाले जवान की भी मौत हो गई थी।

बताया जा रहा है कि जवानों में किसी बात को लेकर विवाद हुआ। इसके बाद एक जवान ने अपने सर्विस राइफल से साथियों पर गोली चलानी शुरू कर दी। बीच-बचाव करने आए बाकी के जवानों को भी गोली लग गई और वे घायल हो गए।

घटना में घायल जवानों को रायपुर लाया जा रहा है। घायल दो जवानों की हालत गंभीर बताई जा रही है। जवानों को एयरलिफ्ट करने की तैयारी की जा रही है। हेलिकॉप्टर से जवानों को रायपुर लाया जाएगा। माना जा रहा है कि छुट्टी नहीं मिलने को लेकर जवानों के बीच विवाद हुआ है। विवाद बढ़ने के बाद जवान ने साथियों पर फायरिंग की है।

बता दें कि 19 जून 2019 को छत्तीसगढ़ आर्म्स फोर्स (सीएएफ) के एक आरक्षक ने अपने ही दो साथियों को गोली मार दी थी. इससे दोनों ही आरक्षकों की मौके पर ही मौत हो गई थी. आरोपी सीएएफ आरक्षक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया था.

Share