मायावती के जन्मदिन पर केक लूटते नजर आए कार्यकर्ता

मायावती के जन्मदिन पर केक लूटते नजर आए कार्यकर्ता

अमरोहा। बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की मुखिया मायावती का 63वां जन्मदिन जनकल्याणकारी दिवस के रूप में मनाया गया। जन्मदिन के मौके पर मायावती ने अपने जीवन पर आधारित किताब ‘अ ट्रैवलॉग ऑफ माइ स्ट्रगल-रिडेन लाइफ ऐंड बीएसपी मूवमेंट’ का विमोचन किया। वहीं, उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले में बीएसपी के द्वारा आयोजित कार्यक्रम के दौरान लोग मायावती के जन्मदिन का केक लूटते हुए नजर आए।

केक लूटते बीएसपी कार्यकर्ताओं का एक विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। बीएसपी चीफ मायावती ने अपने जन्मदिन के मौके पर कहा, ‘उत्तर प्रदेश ही ज्यादातर तय करता है कि केंद्र में किसकी सरकार बनेगी और कौन देश का प्रधानमंत्री बनेगा। इसे ध्यान में रखकर ही मैं आज उत्तर प्रदेश में बने इस गठबंधन को देश और जनहित में कामयाब बनाने के लिए बीएसपी और एसपी के भी लोगों से यह अपील करती हूं कि वे इस चुनाव में अपनी पार्टी, देश और आम-जनहित में अपने पुराने सभी गिले-शिकवे भुला दें।’

मायावती ने कहा, ‘अपने निजी स्वार्थों को भी किनारे रख दें। सभी विरोधी पार्टियों के साम, दाम, दंड-भेद आदि हथकंडों से भी सावधानी बरतते हुए अपने बने इस गठबंधन के सभी उम्मीदवारों को कामयाबी दिलाएं। यही मेरे जन्मदिन पर सबसे कीमती तोहफा होगा।’ वहीं, मायावती ने किसानों की कर्जमाफी पर कहा, ‘कांग्रेस सरकार ने किसानों को धोखा दिया है।

उन्होंने सरकार बनने के बाद किसानों के सिर्फ दो लाख रुपये के कर्ज ही माफ किए जाने की घोषणा हुई है। किसान बैंक से अधिक साहूकार से कर्ज लेते हैं इसलिए सरकार को बैंक के साथ-साथ इन प्रकार के कर्ज को माफ करने के लिए विचार करना चाहिए नहीं तो किसान का कर्ज कभी माफ नहीं हो पाएगा और किसान हमेशा पिछड़ा और दबा रहेगा। इस देश में 70 फीसदी व्यक्ति किसान है।’

Share