मुख्यमंत्री के नेतृत्व में विदेश यात्रा पर जाएगा उत्तराखंड का दल

मुख्यमंत्री के नेतृत्व में विदेश यात्रा पर जाएगा उत्तराखंड का दल

देहरादून। प्रदेश में रोपवे और पब्लिक रैपिट ट्रांजिट (पीआरटी) प्रणाली लागू करने की संभावनाएं टटोलने के लिए उत्तराखंड सरकार का एक दल दुबई और यूरोपीय देशों की यात्रा पर जाएगा। इस दल का नेतृत्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत करेंगे। दल में शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक व शासन के उच्चाधिकारी भी रहेंगे। दल के सितंबर महीने के दूसरे हफ्ते में रवाना होने का कार्यक्रम है।

इस संबंध में प्रदेश सरकार ने आर्थिक मामलों के मंत्रालय और विदेश मंत्रालय से संबंधित प्रक्रिया आरंभ कर दी है। इससे पहले शहरी विकास मंत्री के नेतृत्व में विधायकों का एक अध्ययन दल पहले भी यूरोप की यात्रा कर चुका है। शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने अध्ययन के लिए विदेश यात्रा के कार्यक्रम की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में वे इस कार्यक्रम के बारे में जानकारी साझा करेंगे।

आधिकारिक सूत्रों की मानें तो प्रदेश सरकार राजधानी देहरादून और कुंभ नगरी हरिद्वार में ट्रैफिक के बढ़ते दबाव को लेकर चिंतित है और भविष्य की चुनौतियों से निपटने के लिए नए और व्यावहारिक विकल्पों की संभावनाएं तलाश रही है। इस कड़ी में सरकार रोपवे और पीआरटी प्रणाली के विकल्पों को भी देखना चाहती है कि वे इन दोनों शहरों की यातायात व्यवस्था को सुगम बनाने में कितने प्रभावी रहेंगे। इस संभावना को तलाशने के लिए एक दल यूरोपीय देशों की यात्रा पर जाएगा।

दल का नेतृत्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत करेंगे, जिसमें शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक के अलावा मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, सचिव आवास, उत्तराखंड मेट्रो कारपोरेशन के एमडी जितेंद्र त्यागी भी रहेंगे। यदि आने वाले दिनों में कार्यक्रम में कोई बदलाव नहीं हुआ तो ये दल 15 सितंबर को विदेश दौरे के लिए रवाना होगा और 24 सितंबर तक भ्रमण पर रहेगा।

इस दौरान अध्ययन दल आबूदाबी, लंदन, एम्सटर्डम, ज्यूरिख की यात्रा करेगा जहां रोपवे और पीआरटी टैक्सी प्रणाली के बारे में जानकारी लेगा। इस दौरान रोपवे और पीआरटी प्रणाली से जुड़ी कंपनियों, इनके संचालन और इनके आर्थिक पहलुओं के बारे में जानकारी ली जाएंगी।

Share