नदी में बहे पैट्रोलियम यूनिवर्सिटी के दो छात्र, बरामद हुए शव

नदी में बहे पैट्रोलियम यूनिवर्सिटी के दो छात्र, बरामद हुए शव

देहरादून। रविवार की छुट्टी के दिन नदी पर जाकर इंजॉय करना पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी के दो छात्रों को बहुत महंगा पड़ गया। नदी किनारे मस्ती की कीमत उन्हें अपनी जान गंवाकर चुकानी पड़ी। प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रेमनगर थाना क्षेत्र में बिधौली स्थित जसपाल राणा शूटिंग रेंज के पास नीमी नदी में छह छात्र रविवार को नहाने उतरे थे।

अचानक जलस्तर बढ़ने से नीमी नदी में नहाने उतरे पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी के छह छात्र-छात्राओं में से दो छात्र बहकर लापता हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से कुछ दूरी पर दोनों के शव बरामद कर लिए। जिसके बाद घटना की जानकारी परिजनों को दी गयी। मृतक छात्रों में एक दिल्ली और दूसरा हल्द्वानी का रहने वाला है।

गौरतलब है कि रविवार को बिधौली स्थित पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी के बीटेक प्रथम वर्ष (कंप्यूटर साइंस) के छह छात्र-छात्राएं घूमने गए हुए थे। इनमें चार छात्र और दो छात्राएं शामिल थीं। शाम को जसपाल राणा शूटिंग रेंज के पास छात्र नीमी नदी में नहाने लगे। इसी बीच नदी का जलस्तर अचानक बढ़ गया। छात्र-छात्राओं ने अपनी जान बचाकर भागने का प्रयास किया, लेकिन दो छात्र तेज बहाव में फंस गए।
शोर मचाने पर आसपास के ग्रामीण मौके पर पहुंचे और दोनों को बचाने की कोशिश की, लेकिन सफलता नहीं मिली। देखते ही देखते दोनों छात्र पानी के तेज बहाव में गायब हो गए। सूचना पर पुलिस अधिकारी प्रेमनगर और आसपास के थानों की फोर्स समेत एसडीआरफ की टीम के साथ मौके पर पहुंचे।
ग्रामीणों की मदद से पुलिस ने छात्र मिहिर भटेजा (19) पुत्र विवेक भटेजा निवासी 148 विकासपुरी, पश्चिमी दिल्ली का शव घटनास्थल से कुछ दूरी से बरामद किया।
मिहिर यूपीईएस बिधौली में प्रथम वर्ष का छात्र था।
IMG-20190812-WA0001
जबकि दूसरे छात्र अभिषेक कांडपाल (22 वर्ष) निवासी बिंदुखत्ता, थाना लालकुआं, हल्द्वानी, नैनीताल का शव देर शाम करीब 13 किलोमीटर दूर टौंस नदी से बरामद किया। अभिषेक कांडपाल के पिता बद्री दत्त कांडपालआईएमए में जेसीओ बताए जा रहे हैं। सूचना पर वे भी मौके पर पहुंचे। मृतक अभिषेक कांडपाल हाल में सीआर कैंप आईएमए में रह रहा था।
यूनिवर्सिटी के निदेशक मीडिया अफेयर्स अरुण ढांड ने बताया कि जो चार बच्चे सुरक्षित हैं, उनके अभिभावकों को भी सूचना दे दी है। उन्हें यूनिवर्सिटी बुलाया गया है।
इस घटना की जानकारी होने पर क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ पड़ी। वहीं सूचना मिलने पर प्रशासन में हड़कम्प मच गया। आनन-फानन में पुलिस और एसडीआरफ की टीम नेे राहत और बचाव का कार्य शुरू किया और अन्य चार छात्रों को सुरक्षित बचाया गया।
Share