नसीरुद्दीन ने चापलूस कहा तो अनुपम ने दिया ये जवाब

नसीरुद्दीन ने चापलूस कहा तो अनुपम ने दिया ये जवाब

मुंबई। सीएए और एनआरसी पर कहासुनी के दौरान खुद को जोकर कहे जाने पर अभिनेता अनुपम खेर ने नसीरुद्दीन शाह को वीडियो ट्वीट कर जवाब दिया। अनुपम ने बुधवार को वीडियो शेयर कर लिखा कि आपने मुझे जोकर कहा और यह भी कि मुझे सीरियसली नहीं लेना चाहिए। आपने कहा कि यह सब मेरे खून में है। मैं बता दूं कि मेरे खून में हिंदुस्तान है। आप इसको समझ जाइए बस। दरअसल, एक इंटरव्यू में नसीर ने अनुपम को जोकर कहा था। उन्होंने कहा था कि लोग उनके चापलूस स्वभाव के बारे में बता सकते हैं और यह उनके खून में है।

अनुपम का जवाब- जिन पदार्थों का सेवन करते हैं, उसकी वजह से सही-गलत नहीं पता चलता

वीडियो मैसेज में अनुपम ने कहा, “जनाबनसरूद्दीन शाह साहब मेरे बारे में आपका दिया हुआ इंटरव्यू देखा। आपने मेरी तारीफ में कुछ बातें कहीं कि मैं क्लाउंड हूं। मुझे सीरियसली नहीं लेना चाहिए। मैं साइकोफैंट हूं। ये मेरे खून में है, वगैरह-वगैरह। इस तारीफ के लिए शुक्रिया। पर मैं आपको और आपकी बातों को बिलकुल भी सीरियसली नहीं लेता। हालांकि, मैंने कभी आपकी बुराई नहीं की, कभी आपको भला-बुरा नहीं कहा। अब जरूर कहना चाहूंगा कि आपने अपनी पूरी जिंदगी इतनी कामयाबी मिलने के बावजूद फ्रस्ट्रेशन में गुजारी। अगर आप दिलीप कुमार साहब, अमिताभ बच्चन साहब को, राजेश खन्ना साहब को, शाहरुख खान को, विराट कोहली को क्रिटिसाइज कर सकते हैं तो आई एम श्योर, आई एम इन ग्रेट कम्पनी। और इनमें से किसी ने भी आपकी स्टेटमेंट को सीरियसली नहीं लिया।हम सब जानते हैं कि आप बरसों से जिन पदार्थों का सेवन करते हैं, उनकी वजह से क्या सही है और क्या गलत है, इसका अंतर ही पता नहीं लगता। मेरी बुराई करके अगर आप एक-दो दिन के लिए सुर्खियों में आते हैं तो मैं ये खुशी आपको भेंट करता हूं। भगवान आपको खुश रखे। आपका शुभचिंतक – अनुपम।” इसके बाद उन्होंने आंख मारते हुए कहा, ‘और आप जानते हैं मेरे खून में क्या है? मेरे खून में है हिंदुस्तान। इसको समझ जाइए बस। जय हो।”

नसीर ने अनुपम को कहा था चापलूस और जोकर

‘द वायर’को दिए अपने इंटरव्यू में नसीरुद्दीन शाह ने सीएएऔर एनआरसी का विरोध करते अनुपम खेर पर कड़ा हमला बोला था। उन्होंने कहा था, ‘अनुपम खेर इस मामले में काफी मुखर रहे हैं, लेकिन मुझे नहीं लगता कि उन्हें गंभीरता से लिया जाना चाहिए। वो एक जोकर हैं। एनएसडी औरएफटीआईआई में उनकेसमकालीन रहे लोग उनके चापलूस स्वभाव के बारे में बता सकते हैं। ये चीज उनके खून में है और वे इसमें कुछ भी नहीं कर सकते। लेकिन, बाकी लोग जो इनका समर्थन कर रहे हैं, उन्हें फैसला करना चाहिए कि वे आखिर किसका सपोर्ट कर रहे हैं।”

Anupam Kher

@AnupamPKher

जनाब नसीरुदिन शाह साब के लिए मेरा प्यार भरा पैग़ाम!!! वो मुझसे बड़े है। उम्र में भी और तजुर्बे में भी। मै हमेशा से उनकी कला की इज़्ज़त करता आया हूँ और करता रहूँगा। पर कभी कभी कुछ बातों का दो टूक जवाब देना बहुत ज़रूरी होता। ये है मेरा जवाब। 🙏

Embedded video

19.2K people are talking about this
Share