ओवैसी की मौजूदगी में युवती ने लगाए पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे, पढ़िये पूरी ख़बर

ओवैसी की मौजूदगी में युवती ने लगाए पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे, पढ़िये पूरी ख़बर

बेंगलुरु। देशभर में जारी सीएए-एनआरसी के विरोध के बीच एक बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल सीएए-एनआरसी के खिलाफ ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी की रैली में गुरुवार को हंगामा हो गया। एक महिला ने मंच से पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए। महिला का नाम अमूल्या बताया जा रहा है। इसके बाद महिला को मंच से नीचे उतार दिया गया। देशद्रोह का केस दर्ज होने के बाद उसे 14 दिन के लिए जेल भेजा गया है। वहीं, ओवैसी ने कहा कि वह पाकिस्तान जिंदाबाद के नारों का समर्थन नहीं करते।

महिला को सेव कॉन्स्टिट्यूशन नाम की संस्था की तरफ से मंच पर बोलने के लिए बुलाया गया था। मंच पर पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाते ही ओवैसी समेत मंच पर मौजूद सभी लोग उससे माइक वापस लेने के लिए आगे बढ़े। महिला इसके बाद भी मंच से नारेबाजी करती रही। बाद में पुलिस की मदद से उसे नीचे उतारा गया। पुलिस ने महिला के खिलाफ आईपीसी की धारा 124 ए के तहत देशद्रोह का मामला दर्ज कर लिया। उससे पूछताछ के बाद पुलिस उसे अदालत में पेश करेगी। घटना के बाद ओवैसी ने कहा- मैं इस घटना की निंदा करता हूं। वो महिला हमारे साथ जुड़ी हुई नहीं है। हमारे लिए भारत जिंदाबाद था, जिंदाबाद रहेगा।

ओवैसी ने कहा कि आयोजकों को इस महिला को नहीं बुलाना चाहिए था। यदि मुझे यह बात पता होती, तो मैं इस रैली में शामिल होने नहीं आता। हम लोग भारत के लिए हैं और किसी भी तरह दुश्मन देश पाकिस्तान का समर्थन नहीं करते। हमारी पूरी मुहिम भारत को बचाने के लिए है। मंच पर ही मौजूद जनता दल (एस) के कॉर्पोरेटर इमरान पाशा ने कहा कि महिला को किसी विरोधी समूह ने भेजा होगा। उसका नाम बोलने वालों की लिस्ट में शामिल नहीं था। पुलिस को गंभीरता से मामले की जांच करनी चाहिए।

इससे पहले एआईएमआईएम नेता वारिस पठान ने कलबुर्गी में विवादित बयान दिया था। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ रैली में पठान ने कहा- देश के 15 करोड़ मुसलमान 100 करोड़ हिंदूओं पर भारी पड़ेंगे। पठान ने रैली में कहा, ‘‘वे कहते हैं कि हमने महिलाओं को आगे कर दिया और खुद कंबल ओढ़ कर बैठ गए। केवल शेरनियां सामने आई हैं और तुम्हें पसीना आने लगा। तुम समझ सकते हो कि हम सब अगर साथ आ गए तो क्या होगा। हालांकि विवाद बढ़ने के बाद उन्होंने इस तरह का बयान देने से ही इनकार कर दिया।

Share