संकट में बॉलीवुड के दैनिक वेतनभोगी, मदद को सामने आईं ध्वनि

संकट में बॉलीवुड के दैनिक वेतनभोगी, मदद को सामने आईं ध्वनि

मुंबई। कोरोनावायरस के चलते 22 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर देशवासियों ने जनता कर्फ्यू में हिस्सा लिया। सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकले और कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए कदम उठाया। सिंगर ध्वनि भानुशाली ने भी इस पहल को सपोर्ट किया। 22 मार्च को ही ध्वनि का 22 वां जन्मदिन था और इस मौके को और खास बनाते हुए उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री में दैनिक वेतन पर काम करने वाले वर्कर्स की मदद की। दरअसल, कोरोना के चलते फिल्मों और टीवी शोज की शूटिंग 31 मार्च तक रुकी हुई है जिससे दैनिक वेतन पर काम करने वाले वर्कर्स के लिए रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया।

ध्वनि ने दान किए 55,000: ध्वनि ने फिल्म एंड टेलीविजन प्रोड्यूसर्स गिल्ड ऑफ़ इंडिया में उन वर्कर्स के लिए 55,000 रु. की राशि दान की जो दिहाड़ी पर काम करते हैं और कोरोना के चलते उन्हें रोजी-रोटी के लाले पड़ गए हैं। ध्वनि ने इस बारे में बताते हुए कहा, ‘मैं जानती हूं कि कैमरे के पीछे कितनी मेहनत होती है। स्पॉट बॉय से लेकर कैमरामैन और यहां तक कि खाना सर्व करने वाले भी दिन-रात काम करते हैं ताकि हम ऑडियंस को एंटरटेन कर सकें।’

‘मुझे बहुत बुरा लगा कि मौजूदा स्थिति के चलते इन लोगों के पास कमाई का कोई जरिया नहीं बचा। मैं कुछ स्पेशल करना चाहती थी। जब मुझे फिल्म एंड टेलीविजन प्रोड्यूसर्स गिल्ड ऑफ़ इंडिया द्वारा इन वर्कर्स के लिए शुरू हुई पहल के बारे में पता चला तो मैंने अपनी इनकम से एक छोटा सा हिस्सा उन्हें देने का फैसला किया। ध्वनि ने इस बात की जानकारी अपने इन्स्टाग्राम पर भी देते हुए एक वीडियो शेयर किया जिसमें उन्होंने कोरोना से बेरोजगार हुए लोगों की मदद करने की बात कही और सबको सुरक्षित रहने की सलाह दी।’

ध्वनि ने 2018 में ‘वेलकम टू न्यूयॉर्क’ के गाने ‘इश्तेहार’ से सिंगिंग डेब्यू किया था। अप्रैल 2019 में रिलीज हुए उनके गाने ‘वास्ते’ को 57 करोड़ से ज्यादा व्यू मिल चुके हैं। वहीं, उनका एक और गाना ‘ले जा ले जा’ भी 50 करोड़ से ज्यादा व्यूज पा चुका है।

Share