उत्तराखंड में तेज बारिश, आंधी और ओले पड़ने की चेतावनी

उत्तराखंड में तेज बारिश, आंधी और ओले पड़ने की चेतावनी

देहरादून। शुक्रवार देर शाम को उत्तराखंड में मौसम ने करवट बदली। मैदान में धूलभरी आंधी के साथ ही कई क्षेत्रों में बूंदाबांदी हुई। वहीं मौसम विभाग ने प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में शनिवार से बारिश, तेज रफ्तार आंधी और ओले गिरने का अनुमान है। मौसम विभाग के अनुसार 14 मई को प्रदेश में अत्यधिक तेज आंधी चलने के साथ ही पहाड़ी क्षेत्रों में ओलावृष्टि हो सकती है। इसको लेकर मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है।

मौसम केंद्र के अनुसार राज्य के ज्यादातर क्षेत्रों में 15 मई तक बादल छाये रहेंगे। इस दौरान अधिकांश क्षेत्रों में बारिश भी हो सकती है। ओले गिरने के साथ ही 60 किमी प्रति घंटे तक की रफ्तार से आंधी भी चल सकती है। 14 मई को प्रदेश के कई इलाकों में 80 किमी प्रति घंटे तक की रफ्तार से आंधी चलने के आसार हैं।

इसके अलावा कई पर्वतीय इलाकों में ओले भी गिर सकते हैं। मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि बारिश और ओले गिरने से अधिकतम तापमान में तीन से चार डिग्री तक की कमी आ सकती है। 14 और 15 मई को तापमान में ज्यादा कमी देखी जा सकती है।

पहाड़ में शुक्रवार दोपहर बाद मौसम ने फिर करवट ली है। केदारनाथ में शाम को हल्की बारिश के साथ बर्फ की फुहारें गिरी, जिससे धाम में ठंड बढ़ गई है। यमुनोत्री धाम में पंद्रह मिनट तक झमाझम बारिश हुई, जबकि गंगोत्री धाम में हल्की बूंदाबांदी और गंगोत्री हिमालय के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फ के हल्के फाहे गिरी।

उत्तरकाशी जिले में पिछले कई दिनों से पड़ रही भीषण गर्मी के बीच शुक्रवार को दोपहर बाद मौसम में आए बदलाव से तापमान में गिरावट आई है। जिला मुख्यालय में अधिकतम तापमान 28 डिग्री और न्यूनतम 18 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि यमुनोत्री एवं गंगोत्री धाम क्षेत्र में पारा 12 डिग्री सेल्सियस से कम होने के कारण यात्रियों ने गुनगुनी ठंड के साथ खुशगवार मौसम का लुत्फ लिया।

हालांकि यमुनोत्री धाम में व्याप्त अव्यवस्थाओं के कारण तीर्थयात्रियों को बारिश के दौरान जाम व धक्कामुक्की का सामना करना पड़ा। जबकि पैदल मार्ग में घोड़े खच्चरों की लीद से बने कीचड़ ने भी परेशानी को बढ़ा दिया।

Share