बांग्लादेश को पटखनी देकर भारत ने सेमीफाइनल में जगह की पक्की

बांग्लादेश को पटखनी देकर भारत ने सेमीफाइनल में जगह की पक्की

बर्मिंगम। भारतीय ओपनर रोहित शर्मा के मौजूदा टूर्नमेंट के रेकॉर्ड चौथे शतक और उम्दा गेंदबाजी से भारत ने मंगलवार बांग्लादेश को 28 रन से हराकर विश्व कप के सेमीफाइनल में जगह पक्की की। रोहित ने 92 गेंद में 5 छक्के और 7 चौके की मदद से 104 रन की पारी खेलने के अलावा साथी सलामी बल्लेबाज राहुल (77) के साथ पहले विकेट के लिए 180 रन की साझेदारी की, जिससे भारत ने 9 विकेट पर 314 रन बनाए। ऋषभ पंत ने भी 48 रन की पारी खेली। रोहित का मौजूदा विश्व कप में यह चौथा शतक है और उन्होंने एक विश्व कप में सर्वाधिक चार शतक के श्री लंका के दिग्गज कुमार संगकारा के रेकॉर्ड की बराबरी भी की। भारतीय टीम लगातार तीसरी बार वर्ल्ड कप सेमीफाइल (2011, 2015 और 2019) में पहुंची है।

रोहित साथ ही मौजूदा टूर्नमेंट में 544 रन के साथ सर्वाधिक रन बनाने वालों की सूची में शीर्ष पर पहुंच गए। बांग्लादेश को डेथ ओवरों में मुस्तफिजुर रहमान (59 रन पर 5 विकेट) और शाकिब अल हसन (41 रन पर एक विकेट) ने मजबूत वापसी दिलाई, जिससे भारतीय टीम अंतिम 10 ओवर में 63 रन ही बना सकी। इसके जवाब में बांग्लादेश की टीम बुमराह (55 रन पर चार विकेट) और पंड्या (60 रन पर तीन विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने 48 ओवर में 286 रन पर ढेर हो गई। युजवेंद्र चहल (50 रन पर एक विकेट) ने भी उम्दा गेंदबाजी की।

बांग्लादेश की ओर से शाकिब अल हसन ने सर्वाधिक 66 रन बनाए। मोहम्मद सैफुद्दीन (38 गेंद में नाबाद 51) और शब्बीर रहमान (36) ने सातवें विकेट के लिए 66 रन जोड़कर बांग्लादेश की उम्मीद बंधाई थी, लेकिन इस जोड़ी के टूटने के बाद भारत जीत दर्ज करने में सफल रहा। इस जीत से भारत के 8 मैचों में छह जीत से 13 अंक हो गए हैं और वह दूसरे स्थान पर बरकरार है। बांग्लादेश इस हार के बाद 8 मैचों में सात अंक के साथ सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो गया।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे बांग्लादेश की शुरुआत धीमी रही। तमीम इकबाल (22) ने बुमराह पर दो चौके जड़कर शुरुआत की और फिर भुवनेश्वर कुमार पर भी चौका जड़ा। वह हालांकि मोहम्मद शमी की गेंद को विकेटों पर खेलकर पविलियन लौट गए। बांग्लादेश के रनों का अर्धशतक 12वें ओवर में पूरा हुआ। सलामी बल्लेबाज सौम्य सरकार (33) ने धीमी शुरुआत के बाद शमी पर दो चौके जड़े लेकिन पंड्या ने आते ही उन्हें एक्ट्रा कवर पर कप्तान विराट कोहली के हाथों कैच करा दिया।

मुशफिकुर रहीम 23 गेंद में 24 रन की पारी के दौरान लय में दिखे, लेकिन युजवेंद्र चहल की गेंद पर शमी को आसान कैच दे बैठे। शाकिब ने एक छोर संभाले रखा और पंड्या पर चौका और दो रन के साथ 58 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। लिटन दास (22) ने पंड्या पर छक्का जड़ा लेकिन इसी तेज गेंदबाज की शार्ट गेंद पर दिनेश कार्तिक को कैच बैठे। मोसादेक हुसैन (03) भी बुमराह की गेंद को विकेटों पर खेल गए। पंड्या ने धीमी गेंद पर शाकिब को कार्तिक के हाथों कैच कराके बांग्लादेश का स्कोर छह विकेट पर 179 रन किया।

शब्बीर ने शमी पर लगातार दो चौकों और एक रन के साथ 38वें ओवर में टीम का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया। इसी ओवर में सैफुद्दीन ने भी दो चौके मारे। बांग्लादेश को अंतिम 10 ओवर में जीत के लिए 90 रन की दरकार थी। सैफुद्दीन ने शमी पर दो और चौके मारे। बुमराह ने हालांकि नए स्पैल के लिए वापसी करते हुए पहली ही गेंद पर शब्बीर को बोल्ड कर दिया। शब्बीर ने 36 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके मारे। भुवनेश्वर ने अगले ओवर में मुर्तजा (8) को धोनी के हाथों कैच कराया। सैफुद्दीन ने भुवनेश्वर और शमी पर चौकों के साथ रन गति बरकरार रखी। बांग्लोदश को अंतिम तीन ओवर में 36 रन की जरूरत थी। सैफुद्दीन ने बुमराह पर चौके के साथ सिर्फ 37 गेंद में करियर का पहला अर्धशतक पूरा किया, लेकिन इस तेज गेंदबाज ने अंतिम दो गेंद पर रुबल हुसैन (09) और मुस्तफिजुर (00) को बोल्ड करके भारत को जीत दिला दी।

इससे पहले कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया, जिसके बाद रोहित और लोकेश की जोड़ी ने टीम को शानदार शुरुआत दिलाई। रोहित ने बांग्लादेश के कप्तान मशरेफ मुर्तजा के पहले ही ओवर में छक्के से खाता खोला लेकिन 9 रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब मुस्तफिजुर की गेंद पर तमीम ने डीप स्क्वेयर लेग पर उनका आसान कैच टपका दिया। रोहित ने जीवनदान का फायदा उठाते हुए मोहम्मद सैफुद्दीन पर छक्का जड़ा जबकि राहुल ने भी इस तेज गेंदबाज पर लगातार दो चौके मारे। दोनों ने 10 ओवर में टीम का स्कोर 69 रन तक पहुंचाया।

रोहित ने शाकिब पर छक्का और फिर एक रन के साथ 45 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। भारत के रनों का शतक 18वें ओवर में पूरा हुआ जबकि रुबल हुसैन के अगले ओवर में राहुल ने चौका और फिर दो रन के साथ 57 गेंद में अर्धशतक जड़ा। रोहित ने मोसादेक हुसैन पर पारी के अपने चौथे छक्के के साथ एकदिवसीय क्रिकेट में भारत की ओर से सर्वाधिक छक्के के मामले में पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (228) को पीछे छोड़ा। रोहित ने शाकिब की गेंद पर एक रन के साथ 90 गेंद में मौजूदा विश्व कप का लगातार दूसरा और करियर का 26वां शतक पूरा किया।

रोहित हालांकि सौम्य सरकार के अगले ओवर में गेंद को हवा में लहराकर लिटन दास को कैच दे बैठे। राहुल भी इसके बाद अधिक देर नहीं टिक सके। रुबेल हुसैन की गेंद पर विकेटकीपर मुशफिकुर ने उनका कैच लपका। राहुल ने 92 गेंद का सामना करते हुए छह चौके और एक छक्का मारा। पंत ने आते ही मोसादेक पर छक्का जड़कर 34वें ओवर में टीम का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया। कोहली हालांकि अधिक देर नहीं टिक सके और 27 गेंद में 26 रन बनाने के बाद मुस्तफिजुर की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में मिडविकेट बाउंड्री पर रूबेल को कैच दे बैठे।

पंड्या भी एक गेंद बाद खाता खोले बिना मुस्तफिजुर की गेंद पर स्लिप में सरकार को कैच दे बैठे। पंत ने सैफुद्दीन पर लगातार तीन चौके मारे लेकिन शाकिब की गेंद पर मोसादेक को कैच देकर अर्धशतक से चूक गए। उन्होंने 41 गेंद का सामना करते हुए छह चौके और एक छक्का मारा। मुस्तफिजुर ने दिनेश कार्तिक (8) को पविलियन भेजकर भारत को छठा झटका दिया जबकि पारी के अंतिम ओवर में धोनी (35) और शमी (1) को भी आउट करके चौथी बार पारी में पांच या इससे अधिक विकेट अपने नाम किए।

Share