लूटने के बाद पीड़ित को नंगा कर फरार हो जाते थे लुटेरे

लूटने के बाद पीड़ित को नंगा कर फरार हो जाते थे लुटेरे

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में लूटपाट की घटना को अंजाम देने वाले गिरोह के एक शातिर सदस्य को गिरफ्तार किया गया है। अपराध को अंजाम देने के बाद फरार होने से पहले ये पीड़ित के कपड़े भी उतरवा देते थे। इसके पीछे उनकी यह सोच थी कि नग्न हालत में पीड़ित शर्म की वजह से मदद न मांग सके और उन्हें भागने का समय मिल जाए।

डीसीपी एंटो अल्फोंस ने बताया कि 14 मई की रात को एक सुनसान रास्ते पर छावला थाने की पुलिस टीम पट्रोलिंग पर थी। उन्हें तभी ‘बचाओ-बचाओ’ की आवाज सुनाई दी। टीम पहुंची तो देखा एक शख्स बिना कपड़ों के मदद की गुहार लगा रहा है। पीड़ित ने पुलिस को बताया कि वह नजफगढ़ में रहता है और ऑटो ड्राइवर है। 2 बदमाश जो सवारी बनकर बैठे थे उन्होंने रास्ते में रोक कर ‌उनका ऑटो, कैश और मोबाइल लूट लिया और जाते-जाते कपड़े भी उतरवाकर ले गए। पीड़ित राजू के बयान पर मामला दर्ज किया गया।
जांच में पुलिस ने आसपास के सीसीटीवी फुटेज और जीपीएस की जांच की। जिसमें सामने आया कि लूटा गया ऑटो कंझावला में है। इसके बाद पुलिस टीम ने बदमाश का पीछाकर उन्हें दबोचा। एक आरोपी राहुल को अरेस्ट कर लिया गया है जबकि दूसरा आरोपी रवि फरार है।
Share