‘नमो टीवी’ को लेकर सख्त हुआ चुनाव आयोग, मांगा जवाब

‘नमो टीवी’ को लेकर सख्त हुआ चुनाव आयोग, मांगा जवाब

नई दिल्ली। कांग्रेस और आम आदमी पार्टी की तरफ से दी गई शिकायत के बाद चुनाव आयोग ने सूचना एंव प्रसारण मंत्रालय से 24 घंटे के चैनल ‘नमो टीवी’ को लेकर जवाब मांगा है। आप और कांग्रेस ने पीएम मोदी पर अपने प्रचार के लिए दूरदर्शन के दुरुपयोग का आरोप लगाया था। विपक्षी पार्टियों की तरफ से मांग की गई थी कि आयोग को निष्पक्ष चुनाव के लिए इस पर अंकुश लगाना चाहिए।

आम आदमी पार्टी ने चुनाव आयोग से सवाल पूछा था कि क्या किसी राजनीतिक दल का अपना चैनल होना चाहिए, वह भी तब, जब आचार संहिता लागू हो। आम आदमी पार्टी ने चुनाव आयोग से तुरंत इस पर कार्रवाई करने की मांग की थी। वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के सीनियर नेता कपिल सिब्बल के नेतृत्व में कांग्रेस का पैनल भी चुनाव आयोग से मिला था।
कांग्रेस के पैनल ने कहा था, ‘दूरदर्शन के दुरुपयोग के संदर्भ में एक प्रतिवेदन दिया गया है। हमने कहा है कि चुनाव में सभी दलों को समान अवसर मिलना चाहिए। चुनाव के प्रचार के लिए सरकारी प्रसारण सेवा का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है। नमो टीवी का इस्तेमान राजनीतिक प्रचार के लिए हथियार के तौर पर किया जा रहा है। चुनाव आयोग इस चैनल के प्रसारण पर रोक लगानी चाहिए।’
Share