बिजली की तेज़ गरज ने उड़ाई नींद, घरों में डरे-सहमे बैठे रहे लोग

बिजली की तेज़ गरज ने उड़ाई नींद, घरों में डरे-सहमे बैठे रहे लोग

देहरादून। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में बीते दो दिनों से लगातार आसमानी बादलों की कड़कड़ाहट जारी है। आसमान में कड़कती बिजली ने लोगों में दहशत का माहौल बनाया हुआ है। पछवादून क्षेत्र में तो आसमानी बिजली का और भी रौद्र रूप देखने को मिल रहा है। पहले शुक्रवार और फिर शनिवार की रात आसमान में बादलों की तेज कड़कड़ाहट के साथ तेज़ बारिश होती रही।

आलम ये था कि कई बार तेज़ आवाज़ के साथ बादल गरजते रहे। ऐसा प्रतीत हुआ मानों बस अभी, यहीं बिजली गिरने वाली है। वहीं विद्युत विभाग द्वारा पावर कट कर देने से लोगों में दहशत और ज्यादा बढ़ गई। आसमानी बिज़ली की तेज रोशनी और भयंकर आवाज़ ने लोगों की नींद उड़ा दी। लोग घरों में रातभर डरे-सहमे दुबके रहे और ईश्वर से सकुशल रात गुज़र जाने की कामना करते रहे। वहीं कई जगह लोगों के घरों में विद्युत उपकरण फूंक जाने की खबरें भी सामने आईं हैं।

दून में शाम से शुरू हुआ मूसलाधार बारिश का दौर सुबह तक जारी रहा। लगातार बारिश और बिजली की कड़कड़ाहट ने जहाँ घरों में सो रहे लोगों की नींद उड़ा दी तो वहीं शहर के नदी और नाले उफान पर आ गए। सिंहनीवाला में गदेरा उफान पर आने से पानी सड़क पर आ गया। जिससे वहां से गुजर रही कार भी बह गई। हालांकि कार में सवार लोग सकुशल निकल आए। वहीं, मौसम विज्ञान केंद के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि अगले 24 घंटे में दून समेत पांच जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

एसपी ग्रामीण प्रमेंद्र डोभाल ने बताया कि कार में सवार लोग पूरी तरह सुरक्षित हैं। कार खड्ड में जाकर गिरी थी। जिसके बाद मौके पर एसडीआरएफ की टीम को भी बुला लिया गया। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक शहर के एफआरआइ इलाके में ही रात 12 बजे तक 29.8 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। ऐसा ही अन्य इलाकों में भी होने का अनुमान है। उन्होंने बताया कि बारिश और बिजली कड़कने का यह दौर अगले चौबीस घंटों के दौरान जारी रह सकता है।

Share