कचौरी वाले को मिला टैक्स का नोटिस, सालाना आय जानकर रह जाएंगे हैरान

कचौरी वाले को मिला टैक्स का नोटिस, सालाना आय जानकर रह जाएंगे हैरान

अलीगढ़। उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ निवासी मुकेश कचौरी वाले की दुकान पर सुबह से शाम तक ग्राहकों की लाइन लगी रहती है। लेकिन, फिलहाल वह एक नई वजह से चर्चा में है। मुकेश को टैक्स विभाग का नोटिस मिला है। क्योंकि, उसकी सालाना कमाई 60 लाख रुपए से 1 करोड़ रुपए के बीच आंकी गई है। मुकेश ने ना तो जीएसटी के तहत रजिस्ट्रेशन करवा रखा है और ना ही वह टैक्स भरता है।

12 साल से दुकान चला रहे मुकेश को पहली बार टैक्स का नोटिस मिला है। मुकेश पिछले कई साल से कचौरी-समोसे बेच रहा है, लेकिन हाल ही में किसी ने कमर्शियल टैक्स डिपार्टमेंट से शिकायत कर दी थी। उसके बाद टैक्स इंस्पेक्टर्स की टीम ने पास की दुकान पर बैठकर मुकेश की बिक्री पर नजर रखना शुरू कर दिया।

मामले की जांच कर रहे स्टेट इंटेलीजेंस ब्यूरो (एसआईबी) के सदस्य ने कहा कि मुकेश ने इच्छापूर्वक आय और सभी खर्चों का ब्यौरा दे दिया। उसे जीएसटी के तहत रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ेगा और एक साल का टैक्स भी चुकाना पड़ेगा। 40 लाख रुपए या ज्यादा के टर्नओवर वालों के लिए जीएसटी रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है। तैयार खाने पर 5% टैक्स लगता है।

मुकेश का कहना है कि उसे नियमों की जानकारी नहीं थी। वह 12 साल से दुकान चला रहा है, लेकिन कभी किसी ने टैक्स से जुड़ी औपचारिकताओं के बारे में नहीं बताया। उसका कहना है कि हम साधारण लोग हैं और जीवन-यापन के लिए कचौरी और समोसे बेचते हैं।

Share