मनसे ने मांगा प्रसून जोशी का इस्तीफ़ा, जानिए वजह

मनसे ने मांगा प्रसून जोशी का इस्तीफ़ा, जानिए वजह

मुंबई। महाराष्‍ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) ने सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्‍म सर्टिफिकेशन (सीबीएफसी) के चेयरमैन प्रसून जोशी के इस्‍तीफे की मांग की है। मनसे का आरोप है कि नरेंद्र मोदी की बायॉपिक के मेकर्स को स्‍पेशल ट्रीटमेंट दिया जा रहा है।

डायरेक्‍टर उमंग कुमार की फिल्‍म ‘पीएम नरेंद्र मोदी’ की विपक्षी पार्टियों ने यह कहते हुए आलोचना की है कि इस बायॉपिक से आने वाले चुनाव में बीजेपी को फायदा पहुंच सकता है क्‍योंकि फिल्‍म 2019 लोकसभा इलेक्‍शन से पहले रिलीज हो रही है। बता दें, 11 अप्रैल से 7 चरणों के चुनाव शुरू होंगे और 11 को ही फिल्‍म रिलीज होनी है।

महाराष्‍ट्र नवनिर्माण चित्रपट कर्मचारी सेना के प्रेजिडेंट आमे खोपकर ने एक बयान में कहा, ‘नियम के मुताबिक, प्रड्यूसर्स को फिल्‍म की फाइनल कॉपी सेंसर बोर्ड को फिल्‍म की रिलीज से 58 दिन पहले सबमिट करनी होती है। ऐसे में बायॉपिक को स्‍पेशल ट्रीटमेंट क्‍यों दिया जा रहा है?’

खोपकर ने आगे कहा, ‘फिल्‍म को सर्टिफिकेशन देने के लिए बोर्ड अपनी सीमा से बाहर चला गया। हम सेंसर बोर्ड की निंदा करते हैं। प्रसून जोशी को तुरंत अपने पद से इस्‍तीफा दे देना चाहिए।’

Share