पाकिस्तान में युवती को अगवा कर जबरन कराया धर्म परिवर्तन

पाकिस्तान में युवती को अगवा कर जबरन कराया धर्म परिवर्तन

ननकाना साहिब। पाकिस्तान में कट्टरपंथियों ने एक सिख लड़की (19) को अगवाकर जबरन धर्म परिवर्तन कराया। मर्जी के खिलाफ उसका निकाह भी करा दिया। पीड़िता के परिवार ने प्रधानमंत्री इमरान खान से मदद की गुहार लगाई है। परिजन ने पुलिस को दी शिकायत में बतायाकि 27 अगस्त की रात कुछ हथियार बंद लोग घर में घुसे और बंदूक की नोंक पर लड़की को बंधक बनाकर ले गए। पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदू लड़कियों के जबरन निकाह करवाने के मामले पहले भी सामने आ चुके हैं।

शिरोमणि अकाली दल के विधायक मानजिंदर सिंह सिरसा ने गुरुवार को लड़की के परिजन का वीडियो शेयर किया। उन्होंने लिखा, ‘‘पाकिस्तान के सिख इमरान खान से मदद मांग रहे हैं। मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री एस जयशंकर से अपील करता हूं कि लड़कियों के जबरन धर्म परिवर्तन के मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ले जाएं। पाकिस्तान में सिख धर्म पर खतरा मंडरा रहा है, इसलिए यह मुद्दा संयुक्त राष्ट्र में भी उठाया जाना चाहिए।’’’

खुद को लड़की का भाई बताने वाले मनमोहन सिंह ने वीडियो में कहा, ‘‘अगवा लड़की मेरी बहन है। उसे धमकी दी गई है कि अगर इस्लाम कबूल नहीं किया तो भाई और पिता की हत्या कर दी जाएगी। मैं प्रधानमंत्री इमरान खान और आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा से मदद की अपील करता हूं।’’

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि भारत समय समय पर पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के साथ बुरे बर्ताव का मुद्दा उठाता रहता है। हमने शोषण, हिंसा, जबरन धर्म परिवर्तन कराने को लेकर चिंता जताई है। पाकिस्तान को अपने देश में रहने वाले अल्पसंख्यकों को पूरी सुरक्षा मुहैया कराने के कर्तव्य को निभाना चाहिए।

शिकायत वापस नहीं लेने पर अंजाम भुगतने की धमकी
लड़की के पिता भगवान सिंह पाक के गुरुद्वारा तंबू साहब के मुख्य ग्रंथी हैं। परिवार का आरोप है कि उन्हें शिकायत वापस नहीं लेने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी मिली है। अगले ही दिन दूसरे (लड़के के) पक्ष ने एक वीडियो वायरल किया, जिसमें दावा किया गया है कि उस लड़की ने अपना धर्म बदल कर मुस्लिम लड़के के साथ निकाह किया है। वीडियो में लड़की को 3 बार ‘कबूल है’ कहते दिखाया गया है।

Share