पाकिस्तान में फैला एचआईवी, अब तक 400 मरीज़ आये सामने

पाकिस्तान में फैला एचआईवी, अब तक 400 मरीज़ आये सामने

इस्लामाबाद। पाकिस्तान से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। ताज़ा जानकारी के अनुसार पाकिस्तान के सिंध प्रांत में पिछले एक सप्ताह में करीब 400 से ज्यादा लोग एचआईवी पीड़ित पाए गए। इनमें बच्चों की संख्या सबसे ज्यादा है। आरोप है कि यहां के लरकाना में एक डॉक्टर ने कई लोगों को संक्रमित सुई लगाई, जिससे एड्स फैल गया। आरोपी डॉक्टर के प्रति लोगों में गुस्सा है।

स्वास्थ्य अधिकारी का कहना है कि 400 से ज्यादा लोग एचआईवी पीड़ित हो गए हैं। यह संख्या और बढ़ने कीआशंका है। लरकाना गांव के लोग डरे हुए हैं। उनमें काफी गुस्सा है। ये घटना स्थानीय बाल रोग चिकित्सक की लापरवाही के कारण हुई। डॉक्टरों का कहना है कि मरीजों के इलाज के लिए कर्मियों और उपकरणों की भारी कमी है। परिजनों में अपने बच्चों को लेकर ज्यादा डर है। वे अपने बच्चों का एचआईवी टेस्ट करवा रहे हैं। चौंकाने वाली बात है कि एक साल तक के कई बच्चे भी एचआईवी पीड़ित पाए गए।

एचआईवी/एड्स पर संयुक्त राष्ट्र कार्यक्रम (यूएनएआईडीएस) की रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान में करीब छह लाख फर्जी डॉक्टर लोगों का इलाज कर रहे हैं। सिर्फ सिंध प्रांत में ही ऐसे 2.70 लाख फर्जी डॉक्टर हैं। गरीबी और अशिक्षा से जूझ रहे पाकिस्तान में एचआईवी को लेकर जागरूकता की कमी है। लरकाना के एक इमाम का पोता भी एचआईवी संक्रमित हो गया है। यह पता चलने के बाद उन्होंने अपने घर के सभी बच्चों की जांच कराई है।

संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट के मुताबिक, एचआईवी के मामले में पाकिस्तान एशिया का दूसरा देश है। यहां एचआईवी के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। 2017 में अकेले पाकिस्तान में ही 20 हजार ऐसे मामले सामने आए थे। पाकिस्तान में गरीबी बहुत ज्यादा है। ऐसे में लोग एचआईवी का इलाज कराने में भी सक्षम नहीं हैं।

Share