शक्तिनहर में डूबे कॉलेज के छात्र, नहीं लग पाया सुराग

शक्तिनहर में डूबे कॉलेज के छात्र, नहीं लग पाया सुराग

देहरादून। शिवालिक कॉलेज सिंहनीवाला के दो छात्र शुक्रवार को ढालीपुर शक्तिनहर में डूब गए। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने सर्च अभियान चलाया, लेकिन शाम तक छात्रों का सुराग नहीं लग पाया। दोनों छात्र मूल रूप से पटना बिहार के रहने वाले हैं। घटनास्थल पर ड्राइविंग लाइसेंस का फार्म मिलने पर पुलिस संभावना जता रही है कि छात्र ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए यहां आए थे, जो इस बीच नहर किनारे बैठे थे। तभी एक छात्र का पांव फिसलने से वह नहर में गिर गया। दूसरा उसे बचाने के लिए कूदा और वह भी डूब गया।

हरबर्टपुर चौकी में उपनिरीक्षक किशन देवरानी के मुताबिक शुक्रवार दोपहर साढ़े 12 बजे ग्रामीणों ने ढालीपुर शक्तिनहर में दो युवकों के डूबने की सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस को घटनास्थल पर युवकों की बाइक खड़ी मिली। नहर किनारे हेलमेट और बाइक की चाबी भी पड़ी थी। पुलिस ने बाइक के नंबर से वाहन स्वामी का पता लगाया। पता चला कि बाइक डॉ. अनिल कुमार दीक्षित पुत्र वीपी दीक्षित निवासी पूजा बिहार केहरी गांव प्रेमनगर देहरादून की है।

डॉ. अनिल से संपर्क करने पर उन्होंने बताया कि उनके बेटे रोहन ने बाइक अपने दोस्त कार्तिक (21) पुत्र कृष्णनेदु निवासी महाबली कॉपरेटिव कॉलोनी रोड नंबर छह पटना बिहार और सुधांशु पांडे (20) पुत्र दयाशंकर पांडे निवासी गांधी मैदान पटना बिहार को दी हुई थी। उपनिरीक्षक ने बताया कि दोनों युवक शिवालिक कॉलेज सिंहनीवाला के छात्र थे। बताया कि दोनों छात्रों के परिजनों को सूचना दे दी गई है। वहीं, इस बारे में शिवालिक कॉलेज को भी जानकारी दे दी गई है। सुधांशु पांडे के पिता दयाशंकर पांडे बिहार पुलिस में उपनिरीक्षक हैं।

Share